जमीन का दाखिल खारिज कितने दिन में होता है? – Dakhil Kharij Ye Niyam 2024

जमीन का दाखिल खारिज कितने दिन में होता है? किसी भी व्यक्ति के लिए जमीन या प्रॉपर्टी खरीदना एक बहुत बड़ा फैसला होता है लेकिन आजकल प्रॉपर्टी में होने वाले धोखाधड़ी से भी आपको सावधानी बरतनी चाहिए। आजकल लोग किसी भी जमीन या प्रॉपर्टी को रजिस्ट्री कराकर निश्चित हो जाते हैं लेकिन क्या आपको पता है की जमीन की रजिस्ट्री के साथ-साथ दाखिल खारिज करवाना भी बहुत जरूरी है क्योंकि दाखिल खारिज एक ऐसा कानूनी दस्तावेज है जो आपकी प्रॉपर्टी में किसी भी तरह के फ्रॉड होने से बचाने में मदद करता है।

दोस्तों आज के इस लेख में हम लोग बात करेंगे जमीन का दाखिल खारिज कितने दिन में होता है?, जमीन के दाखिल खारिज न कराने पर क्या होगा और दाखिल ख़ारिज ना कराने पर रजिस्ट्री या बैनामा कब तक मान्य रहता है और दाखिल खारिज नहीं कराने पर क्या दिक्कतें होंगी?

इस लेख में हम डिटेल में आपको बताएंगे तो इस ब्लॉग को पूरा अंत तक जरूर पढ़िएगा क्योंकि यह जानकारी आपके बहुत काम आने वाली है।
दोस्तों इन सभी जानकारी को समझने से पहले आपके लिए यह जानना जरूरी है कि दाखिल खारिज क्या होता है?

दाखिल खारिज क्या होता है? – What Is Dakhil Kharij?

जैसा कि नाम से ही पता चलता है कि दाखिल यानी दखल करना और खारिज यानी निरस्त करना। किसी जमीन या प्रॉपर्टी का दाखिल खारिज करने से विक्रेता का नाम रजिस्टर 2 या खतौनी में से खारिज किया जाता है तथा क्रेता का नाम दखल किया जाता है। दाखिल खारिज के बाद उस जमीन का पूर्णतः मालिक वह बायर या क्रेता हो जाता है जिसने जमीन ख़रीदा है।
भारत में दाखिल खारिज करवाना एक भू राजस्व संहिता की धारा 34 और 35 के अनुसार एक प्रक्रिया है।

दाखिल खारिज किस प्रकार की जमीन का होता है?

दोस्तों आपको बता दे की दाखिल खारिज अधिकतर कृषि भूमि की जमीन पर होता है। अगर कोई किसान या बिल्डर कृषि भूमि पर प्लॉट या मकान बनाकर बेचता है तो दाखिल खारिज करवाना अनिवार्य है। वहीं अगर कोई व्यक्ति फ्लैट, बिल्डर फ्लोर या कमर्शियल प्रॉपर्टी खरीदता है तो उस प्रॉपर्टी पर दाखिल खारिज की प्रक्रिया लागू नहीं होती है। आमतौर पर दाखिल खारिज फ्री होल्ड प्रॉपर्टी में लागू होता है। लिज होल्ड प्रॉपर्टी में दाखिल खारिज की जगह पर रजिस्ट्री और ट्रांसफर ऑफ़ मेमोरेंडम होता है।

इन्हें भी पढ़ें -   Freehold Property VS Leasehold Property में अंतर - Advantages & Disadvantages 2024

अगर आपको ट्रांसफर ऑफ़ मेमोरेंडम के बारे में नहीं पता तो आप इस लिंक पर क्लिक करके जानकारी ले सकते हैं।

चलिए हम लोग ये जान लेते हैं कि अगर हमने अपनी प्रॉपर्टी का दाखिल ख़ारिज नहीं करवाया है तो उस प्रॉपर्टी की रजिस्ट्री कितने दिनों तक मान्य या वैलिड होती है?

जमीन की रजिस्ट्री कितने दिनों तक मान्य होती है?

जमीन का दाखिल खारिज कितने दिन में होता है? - Dakhil Kharij Ye Niyam 2023

यदि आपने किसी भी जमीन या प्रॉपर्टी की रजिस्ट्री बिल्कुल सही तरीके से करवाया है तो दाखिल खारिज नहीं करवाने के बाद भी वह प्रॉपर्टी की रजिस्ट्री या बैनामा आजीवन मान्य होगा लेकिन कुछ कारणों से आपको परेशानी आ सकती है। जैसे आपको पूर्णतः मालिकाना हक़ ना मिलना और उस प्रॉपर्टी को बेचने का अधिकार ना मिलना आदि। निबंधन विभाग द्वारा रजिस्ट्री रद्द करने के लिए 90 दिन का समय निर्धारित किया गया है। इसलिए रजिस्ट्री के 90 दिनों के बाद ही दाखिल ख़ारिज के लिए अप्लाई करना होता है। अगर किसी जमीन या घर की रजिस्ट्री हाल ही में हुई है और उस पर कोई आपत्ति आती है, तो उसे निर्धारित समय यानी 90 दिनों के भीतर में रद्द करवाया जा सकता है।

जमीन का दाखिल खारिज कितने दिन में होता है?

जमीन का दाखिल खारिज कितने दिन में होता है? – जमीन की रजिस्ट्री के बाद लगभग 3 महीने के अंदर दाखिल खारिज के लिए तहसील में आवेदन देना अनिवार्य है। यदि जमीन की रजिस्ट्री कराए हुए काफी साल हो गए हैं और आपने अभी तक दाखिल खारिज नहीं करवाया है तो ऐसी कंडीशन में तहसीलदार आपकी जमीन का दाखिल खारिज करने से इनकार कर सकता है। आप यह मान कर चलिए की जमीन की रजिस्ट्री के बाद आपको 8 से 10 साल के भीतर दाखिल खारिज करवा लेना चाहिए अन्यथा आपकी प्रॉपर्टी या जमीन का दाखिल खारिज नहीं हो पाएगा।

जमीन का दाखिल खारिज कितने दिन में होता है? – इसे उदाहरण से समझिए कि अगर आपने कोई जमीन साल 2010 में खरीदी और 2023 में आपने अभी तक उस जमीन का दाखिल खारिज नहीं करवाया है तो तहसीलदार आपकी जमीन का दाखिल खारिज करने से इनकार कर सकता है। ऐसे में आपको काफी दिक्कतें आएँगी क्यूंकि आप अभी भी उस जमीन के पूर्णतः मालिक नहीं हैं।

इन्हें भी पढ़ें -   इंडिपेंडेंट हाउस किसे कहते हैं? - What Is Independent House In Hindi | जानिए 5 बड़े अंतर

दाखिल खारिज कराने में कितना खर्चा आता है?

जमीन का दाखिल खारिज कितने दिन में होता है? - Dakhil Kharij Ye Niyam 2023

बात करें दाखिल खारिज में खर्च की तो यह भारत में राज्यों के हिसाब से अलग-अलग फीस लगती है। लेकिन आमतौर पर जमीन का दाखिल खारिज कराने में ₹200 से लेकर ₹2500 रुपए तक की फीस लगती है। इसमें भी आरक्षण की सुविधा है यानी यदि आप पिछड़े वर्ग, अनुसूचित जनजाति, या वकार से हैं तो दाखिल खारिज कराने में छूट या फिर कोई फीस नहीं लगेगा।
लेकिन दाखिल खारिज कराने में लगने वाले सटीक फीस के लिए आप स्थानीय भूलेख विभाग में जाकर पता कर सकते हैं वहां आपको एकदम सही जानकारी मिलेगी।

इन्हें भी पढ़ें – दाखिल खारिज कराने में कौन-कौन से डॉक्यूमेंट लगते हैं? Land Mutation Documents 2024

इन्हें भी पढ़े – दाखिल खारिज कराने में कितना पैसा लगता है? Dakhil Kharij Me Kitna Paisa Lagta Hai?

अब सवाल आता है कि दाखिल खारिज नहीं कराने पर क्या दिक्कतें होंगी?

दाखिल खारिज नहीं कराने पर क्या दिक्कतें होंगी?

आपको बता दें कि दाखिल खारिज ना कराने पर राजस्व विभाग में उस व्यक्ति का नाम हमेशा बना रहता है जिस व्यक्ति से आपने वह प्रॉपर्टी खरीदी थी। हो सकता है वह व्यक्ति फ्रॉड करके किसी अन्य को दुबारा रजिस्ट्री कर दे या फिर उस प्रॉपर्टी को दोबारा किसी अन्य व्यक्ति को बेच दे क्योंकि अभी भी उस व्यक्ति को ही सभी मालिकाना हक प्राप्त है ना की आपको।

इसके अलावा किसी सरकारी योजना या मुआवजे की स्थिति में आपको लाभ नहीं मिलेगा क्योंकि वह जमीन आपका नाम पर पूर्णता नहीं हुई है और इसका फायदा उस व्यक्ति को मिलेगा जिस व्यक्ति से आपने वह प्रॉपर्टी खरीदी है। इसलिए किसी जमीन को खरीदने के बाद उस प्रॉपर्टी का दाखिल खारिज करवाना बहुत जरूरी है।

निष्कर्ष

अगर आपने भी अभी तक अपनी जमीन का दाखिल खारिज नहीं करवाया है तो आज ही तहसील या भूलेख विभाग में जाकर जमीन का दाखिल खारिज जरूर करवाएं। किसी प्रॉपर्टी को खरीदने के बाद सिर्फ रजिस्ट्री करवा लेने से आपको जमीन का मालिकाना हक़ नहीं मिलता बल्कि प्रॉपर्टी का मालिकाना हक पाने के लिए दाखिल खारिज कराना भी अनिवार्य है।

दोस्तों ऊपर हमने जाना की दाखिल खारिज क्या होता है?, दाखिल खारिज किस प्रकार की जमीन का होता है?, दाखिल खारिज कराने में कितना खर्चा आता है?, जमीन का दाखिल खारिज कितने दिन में होता है? और दाखिल खारिज नहीं कराने पर क्या दिक्कतें होंगी? इन सभी विषयों पर आज हमने बात की है।

उम्मीद करता हूं आपको यह जानकारी अच्छी लगी होगी दोस्तों अगर आपको यह जानकारी पसंद आई हो तो इस जानकारी को अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करें ताकि वह भी इस जानकारी को समझ सकें। अगर आपके मन में कोई सवाल है तो आप हमें नीचे कमेंट करके पूछ सकते हैं। हम आपके कमेंट का जरूर जवाब देंगे।

Sharing Is Caring:

Hello friends, My name is Ajit Kumar Gupta I am the writer and founder of Property Sahayta and share all the information related to real estate investment tips and property guides through this website.

21 thoughts on “जमीन का दाखिल खारिज कितने दिन में होता है? – Dakhil Kharij Ye Niyam 2024”

  1. हाजीपुर में जमीन खरीदा है ६साल पहले। हम पटना में रहते है। क्या पटना में दखिलखारी ज करवा सकते है। कृपया पटना और हाजीपुर का दाखिल खारिज ऑफिस का पता बताए। रेजेस्ट्री करने का बाद अभी तक दाखिल खारिज नही कराया है। हमे पता नही है। एजेंट लोग 25000 रुपया मांग रहा है। कृपया सही मार्गदर्शन करें।
    धन्यवाद

    Reply
    • प्रिये MD HESHAM UDDIN

      आपने अगर हाजीपुर में जमीन ख़रीदा है तो आपको हाजीपुर ब्लॉक में जाकर दाखिल ख़ारिज करवाना होगा।
      हाजीपुर ब्लॉक का एड्रेस – https://maps.app.goo.gl/6kGv3AhuaWNvnbyR9

      आपको मालुम होना चाहिए की रजिस्ट्री के बाद 3 महीने के भीतर दाखिल ख़ारिज करवाना होता है ,चूँकि आपका काफी समय हो गया है इसलिए अभी भी वक्त है और कोई अच्छा सा वकील से आप बात करके दाखिल ख़ारिज करवा सकते हैं।

      धन्यवाद

      Reply
  2. maine ek jamin liya tha 2012 me uska dakhil kharij ho gya fir maine usko lagbhag saal bhar baad dusre se bech diya..uske baad wah jamin kisse bika pta nahi..lekin ab usi jamin ke upar bechnewale ke bhai ne title suit kia hai aur mujhe bhi party bnaya hai to kya krna chahiye

    Reply
  3. mene august 2023 me rejistry krayi hai and dhakhil kharij bhi avaden kr deiya tha pr abhi tk meri dhakhil kharij online ni cdi hai esme kitne din lgte hai

    Reply
  4. हमारी एक प्रॉपर्टी है जो कि हमारी नाम वो प्रॉपर्टी हमने अपनी सास के नाम करवा दी किसी कारणवश है किंतु सेल ढीठ से करवाई हम अब इस रजिस्ट्री को कैंसिल करना चाहते हैं ताकि ये हमारे नाम पर ही रजिस्ट्री रहे जैसे कि पहले थी
    इसके लिए हमें क्या करना होगा क्योंकि यह काम इसलिए दिक़्क़त आ रहे हैं हमें उन पर और बच्चों पर उनके भरोसा नहीं है कहीं भविष्य में यह कुछ समय में ही वह हमारी प्रॉपर्टी को अपनाना समझ लें हिन्दू प्रॉपर्टी पर पूछे हमारा क़ब्ज़ा है हम रहते हैं अब हमें उपाए चाहिए
    कि वो रजिस्ट्री जो कि हमने अपनी सास के नाम की थी उसको रद्द कैसे घर आ सकते हैं

    Reply
  5. Maine shuklaganj me ek property kharidi hai lekin uski dakhil kharij party nahi karwa pa rahi hai. Kya nagar nigam me tax pay karne se plot ki dakhil kharij nagar nigam me ho jati hai.
    Kya karen please batayen.

    Reply
  6. Sir ji hm ne loni gaziyabad me ek plot kharida tha 2013 me .uska dakhil kharij nhi huwa h….hm se v pahle Jo khrida tha usne v dakhil kharij nhi karaya tha…..to ab hm ko dakhil kharij karana h kaise karaye. Ap btaye plz.

    Reply
  7. Sir hmne lucknow mohanlalganj m 4-5 sal phle jameen liya tha kanha upvan m hmne kharij dakhil ka paisa v de diya tha pr delar n kuchh snaya bad kha ki iska kharij dakhil nhi ho payega aur vo abhi tk kbja v nhi de rha kya kre sir plz kuchh sugges kariye

    Reply
  8. Sir
    Hmari punjab mei zameen hai bohat purani , registry legal hai bt patwari ne us samah paise leke mutuation nhi kraya aur hamne bhi kbi check ni kiya qki voh relative the ab sale krni thi bt ab check kra toh mutation hua hi nhi hai.. Ab patwari mna kr rha hai ..20 saal se zada hogya please help me.

    Reply
    • Aap najdiki tahsil me jaakr dakhil kharij ke liye aavedan de sakte hai…..agar wo mana karte hai to aap jila adhiari office me jakar sikayat de sakte hai…..wahan ke order ke baad aapka kaam ho jayega

      Reply

Leave a Comment

error: Content is protected !!