जमीन का रकबा क्या होता है? – Jameen Ka Rakba Kya Hota Hai? | Check Rakba Online 2024

Jameen Ka Rakba Kya Hota Hai? – जब भी आप कोई जमीन खरीदते हैं तो आपने खाता नंबर रकबा और चौहद्दी के बारे में जरूर सुना होगा। क्या आपको पता है कि जमीन का रकबा क्या होता है। अधिकतर लोग रकबा नाम सुनते ही कंफ्यूज हो जाते हैं और उन्हें सही मायने में रकबा के बारे में सही जानकारी नहीं होती है।

आज हम इस लेख में आपको बताएंगे कि जमीन का रकबा क्या होता है? (Jameen Ka Rakba Kya Hota Hai?) जमीन का रकबा और आराजी में क्या अंतर है? और जमीन का रकबा ऑनलाइन कैसे निकालें?
आज हम इन्ही टॉपिक पर बात करेंगे और इनके बारे में विस्तारपूर्वक जानेंगे। तो चलिए सबसे पहले जानते हैं कि जमीन का रकबा क्या होता है?

जमीन का रकबा क्या होता है? – Jameen Ka Rakba Kya Hota Hai?

जब आप अपने जमीन का राशिद कटवाते हैं तो आपने देखा होगा कि उसमें रकबा या फिर अराजी लिखा होता है।
किसी जमीन का लंबाई व चौड़ाई का गुनफल या क्षेत्रफल रकबा कहलाता है। यानी आपके पास जो जमीन है उसका क्षेत्रफल कितना है, उसे ही रकबा कहते है।

जिस प्रकार व्यक्ति का बैंक में खाता होता है और उसे बैंक द्वारा एक खाता नंबर दिया जाता है तथा व्यक्ति उस खाता नंबर में अपने पैसे रख सकता है। उसी प्रकार जमीन में भी एक खाता नंबर होता है और उस खाता नंबर में कितना जमीन है, यह सब जमीन का रकबा में दर्शाता है।

इन्हें भी पढ़ें -   दाखिल खारिज क्या होता है? Dakhil Kharij Kya Hota Hai? - जानिए दाखिल खारिज के 6 फायदे?

उदाहरण के लिए
मानलीजिये आपके पास एक बीघा जमीन है तो वही एक बीघा जमीन आपका रकबा होगा। आमतौर पर किसी भी राज्य के भूलेख विभाग में रकबा को हेक्टेयर या एकड़ में लिखा जाता है। आप बीघा को हेक्टेयर या एकड़ में कन्वर्ट कर सकते है। इसके लिए आप गूगल का सहारा ले सकते हैं।

बीघा को एकड़ में कैसे कन्वर्ट करें? – How To Convert Bigha Into Acres?

वैसे तो भारत में बीघा का मतलब सभी राज्यों में अलग अलग होता है लेकिन सबसे मानक 1 बीघा का मतलब = 0.619 एकड़ होता है

अन्य राज्यों में 1 बीघा का मतलब

  • पश्चिम बंगाल में, 1 बीघा लगभग 0.33 एकड़ होता है।
  • मध्य प्रदेश में, 1 बीघा लगभग 0.27 एकड़ होता है।
  • बिहार में, 1 बीघा लगभग 0.619 एकड़ होता है।

जब भी आप अपनी भूमि या भूखंड के क्षेत्र का उल्लेख कर रहें हो तो पहले स्थानीय रूपांतरण मानक की जांच करना याद रखें। क्योंकि सभी जगह अलग अलग मापक का प्रयोग किया जाता है।

रकबा और अराज़ी में अंतर – Difference Between Rakba And Araazi?

आपको बता दें की जमीन का रकबा और अराज़ी दोनों एक ही शब्द है। भारत में कहीं रकबा बोला जाता है तो कहीं पर अराजी लेकिन दोनो का मतलब एक ही होता है। आपने जमीन के राशिद या जमीन का केवाला पर देखा होगा कि रकबा या अराज़ी लिखा होता है। दरअसल दोनो का एक ही मतलब होता है। बस स्थानीय भाषाओं का अंतर है।

जमीन का रकबा ऑनलाइन कैसे देखें? – How To Check Land Rakba Online?

Jameen Ka Rakba Kya Hota Hai

अब आप अपनी जमीन से संबंधित सारी जानकारी घर बैठे अपने मोबाइल से ऑनलाइन देख सकते हैं। इसके लिए प्रत्येक राज्य सरकार ने एक ऑनलाइन भूलेख वेबसाइट पोर्टल लॉन्च किया है जहां पर आप घर बैठे अपने जमीन का रकबा और खाता संख्या देख सकते हैं।

इन्हें भी पढ़ें -   ट्रांसफर ऑफ मेमोरेंडम (TM) क्या है? - What Is Transfer Of Memorandum In Hindi?

दोस्तों अब हम आपको जमीन का रकबा ऑनलाइन कैसे देखते हैं? उसके बारे में विस्तार पूर्वक बताएंगे।

आप लोगों को समझाने के लिए मैं उत्तर प्रदेश के भूलेख विभाग को ले लेता हूं।

STEP 1 – सबसे पहले आप उत्तर प्रदेश भूलेख विभाग की ऑफिशल वेबसाइट पर जाएं।

STEP 2 – अब आपकी सामने होम पेज ओपन हो जाएगा। होम पेज पर अपना खाता देखें ऑप्शन पर क्लिक करें।

STEP 3 – इसके बाद आपको अपना जनपद का चयन करना होगा

STEP 4 – जनपद का चयन करने के बाद तहसील और ग्राम का चयन करें।

STEP 5 – इसके बाद आपके सामने खाता खोजने के कई ऑप्शन दिखाई देंगे जैसे:-

● खसरा / गाटा संख्या द्वारा खोजें

● खाता संख्या द्वारा खोजें

● खातेदार के नाम द्वारा खोजें

● नामांतरण दिनांक द्वारा खोजें

STEP 6 – यहां दिए गए ऑप्शन में से किसी एक ऑप्शन का चयन करें

STEP 7 – इसके बाद आपको खाता खोजें के ऑप्शन पर क्लिक करना है।

STEP 8 – अब आपके सामने खाता संख्या का संपूर्ण विवरण आ जायेगा। इसमें खाताधारी का नाम, खाता संख्या, खसरा संख्या और जमीन का रकबा भी दिखाई देगा।

इस तरह आप अपने जमीन का रकबा ऑनलाइन घर बैठे आसानी से देख सकेंगे

निष्कर्ष / Conclusion

दोस्तों ऊपर हमने जाना की जमीन का रकबा क्या होता है? (Jameen Ka Rakba Kya Hota Hai?)जमीन का रकबा और अराजी में क्या अंतर होता है? तथा किसी जमीन का रकबा ऑनलाइन कैसे निकालें? हमने आपको इन सभी पहलुओं पर जानकारी देने की कोशिश किया है।

उम्मीद करता हूं आपको है जानकारी अच्छी लगी होगी दोस्तों अगर आपको यह जानकारी अच्छी लगी हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें ताकि वह भी इस जानकारी को समझ सकें। अगर इस टॉपिक पर आपके मन में कोई प्रश्न हो तो आप हमें कमेंट करके पूछ सकते हैं।

Sharing Is Caring:

Hello friends, My name is Ajit Kumar Gupta I am the writer and founder of Property Sahayta and share all the information related to real estate investment tips and property guides through this website.

Leave a Comment

error: Content is protected !!